दिल्ली में बोर्ड परीक्षा के लिए कोई शुल्क नहीं

दिल्ली राज्य सरकार के एक फैसले से तीन लाख से ज्यादा छात्रों को फायद पहुँचने वाला है। ज्ञात हो कि CBSE ने पिछले दिनों 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा के लिए एग्जामिनेशन फीस बढ़ाई थी जिसके अंतर्गत परीक्षा शुल्क बढ़ाकर 1800 रुपए प्रति छात्र कर दिया था जिस पर दिल्ली सरकार ने रोक लगा दी है। सर्कार के इस फैसले से सरकारी, सहायता प्राप्त, राज्य सरकार द्वारा अधिकृत और पत्राचार विद्यालयों के छात्रों को फायदा पहुंचेगा।

इतना ही नहीं राज्य के साइंस स्ट्रीम के 14,783 के छात्रों को प्रैक्टिकल शुल्क भी नहीं देना होगा। बारहवीं में तीन प्रैक्टिकल विषय होते हैं प्रत्येक विषय का शुल्क 150 रुपए है। वहीँ सरकार इसके बदले प्रतिवर्ष 57 करोड़ रुपए खर्च करेगी।

Source link: jagran